- कौन है मुख्तार अंसारी?
- एक स्वतंत्रता सेनानी का पौत्र कैसे बन गया डॉन?
- गरीबों का मसीहा या सबसे बड़ा अपराधी?
- रास्ते में नहीं तो क्या जेल में होगी मुख्तार की हत्या?
- क्या कोर्ट और जांच एजेंसियां उसे नहीं दिलवा सकती सजा?

इन सभी सवालों के जवाब आज के इस आर्टिकल में हम विस्तार से बताएंगे। वेब सीरीज मिर्जापुर देखी होगी आपने। कालीन भैया को भी जानते होंगे। उनका धंधा, उनका रुतबा और उनका अपराध सबकुछ एकदम टॉप लेवल का हुआ करता था। कब किसे गोली मार दें, कब किसको धंधा सौंपकर राजा बना दे सबकुछ…


‘युवा हल्ला बोल’ के राष्ट्रीय संयोजक सह युवा नेता अनुपम रविवार को हरियाणा, पंजाब एवं चंडीगढ़ की सरकार के साथ-साथ केंद्र सरकार पर हमलावर रहे। बेहद आक्रोश के साथ कहा की युवाओं का भविष्य अंधकार में डाला जा रहा है। युवाओं को डिग्री प्राप्त करने के बाद भी रोजगार नहीं मिल रही है जो की अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है। ‘युवा हल्ला बोल’ देश के अन्य राज्यों के साथ साथ हरियाणा, पंजाब एवं चंडीगढ़ के युवाओं को भी रोजगार दिलाने के लिए आवाज़ बुलंद करेगी। इसमें मुख्य रूप से सरकारी भर्तियों में हो रही देरी, नौकरियों में कटौती और रोज़गार के सवाल…


असम में भाजपा और ईवीएम के पुराने रिश्ते की एक नई कहानी सामने आई है। इस कहानी में चुनाव आयोग फूफा बनकर अपना पक्ष रखने आए लेकिन अब फंस गए हैं। ऐसे फंसे की लोग मजे लेने लगे। अब चुनाव आयोग को गुस्सा आ जाए उससे पहले ये पूरा मामला जान लीजिए।

1 अप्रैल को असम में दूसरे चारण की वोटिंग हुई। शाम को पथरकंडी विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी कृष्णेंदु पॉल की कार में ईवीएम मिली। इस मामले से जुड़ा वीडियो जैसे ही सोशल मीडिया पर वायरल हुआ विपक्ष ने हंगामा कर दिया। प्रियंका गांधी, शशि थरूर, दिग्विजय सिंह, नितिन…


देश के पांच राज्यों को छोड़कर कोरोना वायरस महामारी फिर से चुनौती बन चुकी है। जिन पांच राज्यों में कोरोना नहीं है वहां चुनाव है। इसी को लेकर हमने एक पोल करवाया।
जनता से पूछा-

कोरोना वायरस कैसे खत्म होगा?

- लॉकडाउन से
- वैक्सीन से
- मास्क से
- चुनाव से

अधिकतर लोगों ने कहा- चुनाव से। सैद्धांतिक रूप से देखेंगे तो ये गलत जवाब लगेगा। लेकिन हमारे नेताओं ने कोरोना को लेकर ऐसी स्थिति पैदा कर दी है कि यही जवाब सबसे परफेक्ट लगता है। गुजरात के राजकोट से भाजपा विधायक गोविंद पटेल ने कहा भाजपा के कार्यकर्ता…


लाहौर हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान भगत सिंह ने कहा था कि- ‘क्रांति संसार का नियम है। वह मानवीय प्रगति का रहस्य है। लेकिन उनमें रक्तरंजित संघर्ष बिल्कुल लाजिमी नहीं है और न उसमें व्यक्तियों के खिलाफ हिंसा की कोई जगह है। क्रांति बम और पिस्तौल का सम्प्रदाय नहीं है’

भगत सिंह की इन बातों को अब वर्तमान में रखकर देखिए। केंद्र की मोदी सरकार ने तीन नए कृषि कानून पास किए जिसके विरोध में किसानों ने दिल्ली के विभिन्न बॉर्डरों पर धरना देना शुरु कर दिया। चार महीने बीत गए लेकिन उनकी मांगो पर किसी तरह का अमल नहीं…


Author :- RAJESH SAHU

सवाल है कि रेप क्यों होते हैं?

- क्योंकि लड़कियां छोटे कपड़े पहनती हैं। नहीं।
- क्योंकि लड़कियां पुरुषों को अट्रैक्ट करती हैं। नहीं नहीं।
- क्योंकि लड़कियां रात में घूमने निकलती हैं। नहीं ये भी नहीं।

तो फिर क्यों? नहीं पता! चलिए हम बताते हैं आपको क्यों होते हैं रेप?

उत्तराखंड के नवनियुक्त सीएम तीरथ सिंह रावत एकबार हवाई यात्रा कर रहे थे उनके बगल एक महिला बैठी थी उन्होंने पूछा बहन जी कहां जा रही हैं? महिला ने कहा- दिल्ली जा रही हूं. …


Society is following nudity if it is following the trend or let us say it in the style of newly appointed Uttarakhand CM, Tirath Singh Rawat that the ripped jeans are a signal of nudity. If we go back to history, the trend of distressed denim had found its way into the punk culture in the 1970s. Before this, ripped jeans were linked with the working class who couldn’t afford to buy new jeans. Even at that time, denim became a target.

The episode of target started when a band named ‘Sex Pistols’ implanted British Punk ideology to fight against…


अंतिम चार चरणों के लिए भारतीय जनता पार्टी द्वारा प्रेषित सूची ने पार्टी में बड़े बवाल को न्यौता दिया। दरअसल काशीपुरा-बेलगछिया से तरुण साहा और चौरिंगी विधानसभा से शिखा मित्रा को टिकट दिया गया। इसके बाद इन दोनों ने बीजेपी में होने या बीजेपी के टिकट से चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया। इससे पहले टिकट वितरण को लेकर बीजेपी आंतरिक कलह का शिकार भी हो चुकी है।

इन घटनाक्रमों ने एक बड़ा सवाल पैदा कर दिया है। सवाल ये कि क्या बीजेपी के पास चुनाव लड़वाने के लिए उम्मीदवार तक नहीं हैं? अगर ऐसा है तो किस आधार पर…


अजान के कारण इलाहाबाद विश्वविद्यालय की कुलपति संगीता श्रीवास्तव की नींद में खलल पड़ रही है. उन्होंने इस समस्या को लेकर ज़िलाधिकारी समेत प्रशासन के कई अधिकारियों को चिट्ठी लिखी है. जिसमें उन्होंने कहा कि रोजाना सुबह लाउडस्पीकर से अजान होने के कारण उनकी नींद खराब होती है.

इसके साथ ही वीसी ने आगे कहा कि रमजान शुरू होने पर पूरे महीने तक रोजाना लाउडस्पीकर से अनाउसमेंट होंगी, जिससे नींद में और ज्यादा खलल पड़ेगी. उन्होंने अपनी चिट्ठी में इलाहाबाद हाईकोर्ट का आदेश का हवाला भी दिया है. …


किसी भी खेल को जीतने की संभावनाएँ तब बढ़ जातीं हैं, जब या तो नियम आपने ही बनाएँ हों या आप उन्हें अच्छे से जानते हों। पश्चिम बंगाल चुनाव भी एक मज़ेदार खेल बनता जा रहा है। बीजेपी ने अपने नियम इस खेल में सेट करने की कोशिश की, जैसे — सीएए, एनआरसी, एनपीआर और बांग्लादेशी घुसपैठिए। लेकिन फ़िलहाल ऐसा लग रहा है कि वो नियम सेट हो नहीं पाए।

कौन जीतेगा पश्चिम बंगाल के चुनाव” — ये आम लोगों के बीच चर्चा का सबसे बड़ा विषय बना हुआ है। इस खेल में जो दो दल सबसे आगे दिख रहे…

Political/News Updates

Get the Medium app

A button that says 'Download on the App Store', and if clicked it will lead you to the iOS App store
A button that says 'Get it on, Google Play', and if clicked it will lead you to the Google Play store